Mahfil-E- Musayra With Ghazal Kings

By Author Entertainment
Mahfil-E- Musayra With Ghazal Kings

On the 37th episode of the Kapil Sharma show when Gazal Kings Anup Jalota, Talat Aziz and Pankaj Udhas came to Kapil house and show starts. It was looking a Mussayra night rather a comedy show. From the beginning to the end of the show everyone was sharing Sayri. Followings are some of the Sayri of that night.


Mr. Navjot Singh Sidhu Sayri


" खनकती सुन्दर आवाज ने सात सुरो को सवारा है |

गीत बनाये मधुर गजलो को मौसकी से सवारा है |

आप तीनो का संगम देख कर लग रहा है,

जैसे गंगा जमुना सरस्वती की मिल रही धरा है|

और आपने हमें संगीत की त्रिवेणी में उतारा है| "


Mr. Talat Aziz Sayri


" हमसे पूछो ग़ज़ल क्या है | ग़ज़ल का फन क्या है |

हमसे पूछो ग़ज़ल क्या है | ग़ज़ल का फन क्या है |

चंद लफ़्ज़ों में कोई आह छुपा दी जाये | "




" तुझे पयार करना नहीं आता |

मुझे प्यार के सिवा कुछ नहीं आता |

दुनिया में जीने के दो ही तरीके है |

एक तुझे नहीं आता और एक मुझे नहीं आता | "


Mr. Pankaj Udhas Sayri


" कुछ नशा तो आपकी बात का है |

कुछ नशा तो आपकी बात का है |

कुछ नशा धीमी बरसात का है |

हमें अप्प यही शराबी ना कहिए |

ये नशा तो पहली मुलाकात का है | "


Similar Post You May Like

Recent Post

Social Media Links